रेजांग ला में भी धारदार हथियार लेकर आए थे चीनी सैनिक, भारतीय सेना ने ऐसे दिया जवाब

नई दिल्ली। चीन की विस्तावादी नीति के कारण लद्दाख के एलएसी पर भारत के साथ जारी सीमा विवाद कम होने का नाम नहीं ले रहा है। एक तरफ चीन जहां इस पूरे विवाद को बातचीत सुलझाने का दिखावा करता है तो वहीं चीनी सैनिक चुपके सीमा पर घुसपैठ करने की कोशिश करते हैं। आपको बता दें कि बीते सोमवार को भारतीय सेना ने चीनी सैनिकों की एक बड़ी साजिश का न सिर्फ पर्दाफाश किया है बल्कि चीन नपाक हरकात को मोहतोड़ जवाब भी दिया। भारतीय सेना ने 50 चीनी सैनिकों की एक तस्वीर डाली है। इस तस्वीर में साफ साफ दिख रकि चीनी सैनिक धारदार हथियार लेकर भारतीय चोटी की ओरप चले आ रहे हैं।

आपको बता दें कि चीनी सेना  एक बार फिर 15 जून वाली कायरना हरकत दोहराना चाहती थी लेकिन भारतीय सेना की मुश्तैदी ने उन्हें फेल कर दिया और भारतीय सेना ने हवाई फायरिंग करते हुए चीनी सैनिकों को खदेड़ दिया। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चीनी सैनिकों ने घुसपैठ की यह नापाक हरकत रेजांग ला के उत्तर स्थित मुखपुरी में  करने की कोशिश की थी। दरअसल यहां पर मौजूद चोटी पर भारतीय सेना का कब्जा है। यह चोटी रणनीतिक रुप से अधिक  महत्वपूण है इस वजह से चीन इसे अपने कब्जे में लेने की बार बार कोशिश कर रहा है।  

भारतीय सेना की माने तो चीन सैनिक एक बार फिर से गलवान घाटी वाली हिंसक झड़प को दोहराना का प्रयास कर रहे थे। इसी इरादे से उसके सैनिक चुपके से धारदार हथियार के साथ भारतीय सैनिकों पर हमला करने के लिए आगे आ रहे थे। मगर भारतीय सेना ने उन्हें माकूल जवाब देकर उनके इरादे को नाकाम कर दिया है। भारतीय सेना ने कहा है कि उनकी तरफ से कोई फायरिंग नहीं की गई है। सेना ने पीएलए के लगातार उकसावे के बाद भी संयम बरता रखा है।

Show More

Related Articles